पानी के लिए शुरू हुआ संघर्ष

रायसेन. पीने के पानी को लेकर अभी से गांव-गांव किल्लत बढऩे लगी है। लंबे अरसे से पानी की भीषण समस्या से जूझ रहीं ग्राम पंचायत पठारी के रामपुर टोला के गरीब आदिवासी परिवार के लोगों, महिलाओं, बच्चों ने मंगलवार को दोपहर करीब बारह बजे सागर भोपाल स्टेट हाईवे पर बर्तन लेकर जाम लगा दिया। बीस मिनट तक चले इस चक्काजाम में दोनों तरफ वाहनों की लंबी-लंबी कतारें लग गईं।

इस जाम के दौरान एएसपी अवधेश प्रताप सिंह का वाहन सहित एंबुलेंस भी फंसी रही। बाद में मौके पर पहुंचे कोतवाली टीआई आशीष कुमार धुर्वे ने एक के बाद एक वाहनों को निकलवा कर जाम खुलवाया। चक्काजाम के दौरान नारेबाजी कर रहीं महिलाओं ने पानी की समस्या हल करने की मांग की। टीआई धुर्वे, पीएचई के ईई मनोज कुमार वर्मा, सरपंच राकेश बेदी की समझाइश के बाद ग्रामीण बमुश्किल मानें।

news2

सालभर से जूझ रहे ग्रामीण
ग्राम पंचायत पठारी के तहत आने वाले रामपुर टोला की बस्ती के रहवासी गरीब मजदूर आदिवासियों के करीब ५०० घर हैं। यहां पिछले एक साल से पानी की समस्या बरकरार है। ग्रामीणों व महिलाओं का कहना है कि जनसुनवाई से लेकर पीएचई विभाग में पानी की समस्या हल करने दर्जनों आवेदन दे चुके हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। रामपुर टोला एक पठार पर बसा हआ है। जिसमें तीन सरकारी हैंडपंप हैं। लेकिन भू-जल स्तर खिसक जाने से वह बंद पड़े हुए हैं। ऐसी स्थिति महिलाएं दो से

news3

ढाई किमी दूर खेतों
के ट्यूबवेलों से पानी लेकर आती हैं। अब खेतों के बोर का जल स्तर भपी कम होने लगा है, जिससे समस्या विकराल रूप लेने लगी है। अब खेतों के मालिकों ने भी उन्हें पानी देने से मना कर दिया है।

स्कूल में भी नहीं पानी
रामपुर टोला स्थित प्राइमरी स्कूल के बच्चे और शिक्षक-शिक्षिकाएं घर से बॉटलों में पानी लाने के लिए मजबूर हैं। मध्यान्ह भोजन के बाद बच्चों को झूठे बर्तन घर लेजाकर साफ करना पड़ते हैं। स्कूल के सामने लगा हैंडपंप बंद हो गया है। महिलाओं ने अधिकारियों को बताया कि पठारी गांव के दबंगों द्वारा सरकारी बोर पर कब्जा कर खुद की मोटर डाल रखी है। वह पानी का उपयोग फसलों की सिंचाई के लिए कर रहे हैं।

टेंकर से सप्लाई करें पानी
ग्रामीण सुमित्रा बाई, छाया बाई, कलाबाई, नंदी बाई, पप्पू सिंह, रामकली बाई, कलाबाई, पूजा बाई ने कहा कि टेंकर से पानी सप्लाई किया जाए। अधिकारियों ने मौके पर मौजूद भट्टा मालिक कन्हैयालाल खूबचंदानी से ग्रामीणों को पानी देने की बात कही तो उसने कहा कि बोर का जल स्तर खिसक चुका है। इस कारण पानी नहीं दे सकते।

सर्वे कराने के बाद रामपुर टोला के लिए स्टीमेट बनाकर स्पॉट सोर्स के लिए कार्ययोजना तैयार करेंगे। चौबीस घंटे बिजली की सप्लाई कर नलजल योजनाओं को चालू करवा दिया जाएगा। ताकि गरीब मजूदरों को पानी मुहैया कराया जा सके।
मनोज कुमर, ईई पीएचई