चाइनीज मांझे से पतंग उड़ा रहे दो बच्चों को लगा 33 केवी का करंट, घायल

Rajneesh Sethi

Rajneesh Sethi|News18 Madhya PradeshUpdated: January 13, 2019, 1:09 PM IST

देश भर में संक्रान्ति के मौके पर आसमान पतंगों के रंगों से सराबोर हो जाती हैं. प्रतिबंध के बावजूदचाइनीज मांझे की खरीदीऔर बिक्री रुक नहीं रही है, जिससे मासूम बच्चे आये दिन हादसों के शिकार हो रहे हैं. ताजा मामला आगर मालवा की अयोध्या बस्ती में सामने आया है, जहां दो मासूम बच्चों को पतंग उड़ाने के दौरान करंट लग गया, गनीमत रही कि दोनों बच्चों की जान बच गई.

आगर नगर की अयोध्या बस्ती निवासी 14 वर्षीय समीर व 10 वर्षीय अमीर चाइनीज मांझे से पतंग उड़ा रहे थे. इस दौरान मांझा पास से गुजर रही 33 केवी की विद्युत लाइन के संपर्क में आ गए, जिससे दोनों बच्चों को करंट लग गया और दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए. घायल बच्चों का जिला अस्पताल में दोनों बच्चों का इलाज जारी है.

पिछले कुछ साल से चाइनीज मांझे का चलन मध्य प्रदेश सहित पूरे देश में बढ़ा है. जानकारों के अनुसार इस मांझे में पतले धातू के तारों का उपयोग किया जाता है, जिससे यह आसानी से नहीं टूटता. इसी वजह से इसका चलन और ज्यादा होने लगा है. इस डोर में उलझने से पिछले वर्षों में कई हादसे सामने पेश आये हैं और इससे सबसे ज्यादा नुकसान पक्षियों को होता है.

आगर-मालवा जिले के कलेक्टर द्वारा पहले ही चाइना डोर पर प्रतिबंध लगाया जा चुका है, लेकिन प्रशासनिक लापरवाही के चलते जिले में चाइना डोर की जमकर खरीदी व बिक्री जारी है. कुछ दिन पहले जिला मुख्यालय पर पुलिस द्वारा कुछ दुकानों पर इस संबंध में जांच जरूर की थी, लेकिन कोई ठोस कार्रवाई नहीं होने की वजह से प्रतिबंधित मांझा बाजार में बिक रहा है.यह भी पढ़ें-  एक बार फिर चाइनीज मांझे ने काटी बच्ची की जिंदगी की डोर

यह भी पढ़ें-   जयपुर में चाइनीज मांझे को लेकर पुलिस हुई अलर्ट, तय समय में ही करें पतंगबाजी

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

Loading…