गंगा बेसिन में बने अवैध अपार्टमेंट को डायनामाइट से उड़ाएगा पटना नगर निगम

पटना, जेएनएन। राजापुल के समीप गंगा किनारे बने एक अवैध अपार्टमेंट को नगर निगम डायनामइट से उड़ाने जा रहा है। इसके लिए निगम की ओर से योजना तैयार कर ली गई है। जानकारी के मुताबिक बिल्डर सतीश बैरोलिया ने कुछ समय पहले राजापुल के समीप आपार्टमेंट बनाया था। उस वक्त बिल्डिंग बायलॉज के उल्लंघन करते हुए निर्माण किया गया था।

बिल्डिंग तोड़ने का आदेश नगर आयुकत की कोर्ट में सुनवाई के बाद दिया गया है। कुछ दिन पहले नगर आयुक्त ने नोटिस भेजते हुए 30 दिन के अंदर अपार्टमेंट तोडऩे को कहा था। समय सीमा खत्म होने के बाद भी कार्रवाई नहीं की गई। अब बिल्डिंग को डायनामाइट लगा कर तोड़ा जाएगा। इसके लिए जिला व पुलिस प्रशासन को पत्र भेजकर मजिस्ट्रेट व पुलिस बल की मांग की गई है।

200 मीटर के दायरे का किया गया है उल्लंघन

राजापुल के समीप गंगा से 200 मीटर के दायरे का उल्लंघन कर इस अपार्टमेंट को बनाया गया था। निर्माण के समय बिल्डिंग बायलॉज व मास्टर प्लान को नजर अंदाज करते हुए अपार्टमेंट बनाया गया। जिसके चलते प्रशासन ने इसे तोडऩे का निर्णय लिया। इसके लिए सन 2012 में तत्कालीन नगर आयुक्त ने अपार्टमेंट को तोडऩे का आदेश दिया था। इसके बावजूद बिल्डर ने तीन ब्लॉकों में जी प्लस छह फ्फ्लोर की बिल्डिंग खड़ी कर दी थी। आदेश के बाद दीघा से दूजरा तक गंगा सुरक्षा बांध के समीप बने दो दर्जन अपार्टमेंट पर तलवार लटक रही है।

Posted By: Akshay Pandey