हॉकी विश्व कप: ऑस्ट्रेलिया ने चीन को 11-0 से हराया, इंग्लैंड ने भी दर्ज की जीत

चीन के खिलाफ गोल करने के बाद जश्न मनाते ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी।
भुवनेश्वर
ऑस्ट्रेलिया हॉकी टीम ने यहां शुक्रवार को कलिंगा स्टेडियम खेले गए ओडिशा हॉकी विश्व कप के अपने आखिरी ग्रुप मैच में चीन को 11-0 से हरा दिया। पहले ही क्वॉर्टर फाइनल में प्रवेश हासिल कर चुकी वर्ल्ड नंबर-1 और मौजूदा विजेता ऑस्ट्रेलिया ने किसी भी प्रकार से शुक्रवार को पूल-बी में खेले गए अपने एकतरफा मैच में चीन पर रहम नहीं दिखाया।

इस मैच में ऑस्ट्रेलिया के लिए ब्लैक गोवर्स ने हैटट्रिक लगाई। उन्होंने 9वें, 19वें और 34वें मिनट में तीन गोल किए। इसके अलावा, टिम ब्रैंड ने दो गोल किए। उन्होंने ये गोल 33वें और 55वें मिनट में गोल किए। इसके अलावा, ऑस्ट्रेलिया के लिए जालेस्की, टॉम क्रेग, जेज हेवर्ड, जैक वैटन, टिम ब्रैंड, डेसन वूथरस्पून और फ्लिन ओगल्वी ने एक-एक गोल किए।

ऑस्ट्रेलिया ने पहले हाफ में ही छह गोल दागकर चीन के खिलाफ मजबूत बढ़त हासिल कर ली। चीन को गोल का एक भी मौका न देते हुए ऑस्ट्रेलिया ने पहले हाफ के समापन तक 6-0 की बढ़त बना ली थी।

इसके बाद, ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे हाफ में भी अपने गोल का सिलसिला जारी रखा। उसने दूसरे हाफ में चार और गोल किए। यह इस टूर्नमेंट में किसी टीम की स्कोर के मामले में सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले नीदरलैंड ने मलेशिया को 7-0 से हराया था।

इंग्लैंड ने आयरलैंड को हराया

पूल के अंतिम लीग मैच में इंग्लैंड ने आयरलैंड को 4-2 से हराया, जिससे चीन दो अंक लेने के बावजूद तीसरे नंबर पर रहकर क्रॉस-ओवर में पहुंचने में सफल रहा। ऑस्ट्रेलिया ने अपना विजय अभियान जारी रखा और तीनों मैच जीतकर 9 अंक के साथ पूल बी से शीर्ष पर रहकर क्वॉर्टर फाइनल में पहुंचा। इंग्लैंड चार अंक लेकर दूसरे और चीन दो अंक के साथ तीसरे स्थान पर रहा। इन दोनों ने क्रॉस-ओवर में जगह बनाई, जबकि आयरलैंड को बाहर का रास्ता देखना पड़ा।