पहले टेस्ट में मुकाबला बराबरी का: अश्विन

रविचंद्रन अश्विन
ऐडिलेड
ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में मुश्किल में डालने के बाद भी भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को लगता है कि यहां खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में मुकाबला बराबरी पर है और हर रन काफी महत्वपूर्ण होगा। ऑस्ट्रेलिया ने शुक्रवार को दूसरे दिन 7 विकेट पर 191 रन बनाए। इससे पहले दिन की पहले ही गेंद पर भारतीय पारी 250 रन पर सिमट गई। मैच में अब तक 3 विकेट लेने वाले अश्विन ने कहा, ‘लगता है कि हमने उन्हें कड़ी चुनौती दी है और दोनों छोर से उन पर दबाव डाला।’

अश्विन ने कहा, ‘हम तेज गेंदबाजी आक्रमण और स्पिन गेंदबाजी आक्रमण को अलग-अलग नजरिये से नहीं देखते। हम इसे पूरी गेंदबाजी इकाई की तरह देखते है क्योंकि एक के बिना दूसरे का अस्तित्व नहीं।’ ऑस्ट्रेलियाई टीम 59 रन से पिछड़ रही है और उसके 3 विकेट बाकी हैं लेकिन अश्विन ने कहा टेस्ट मैच अभी बराबरी पर है।

पढ़ें,
टीम इंडिया का कमबैक, कंगारुओं पर शिकंजा

उन्होंने कहा, ‘मैंने चायकाल से पहले और बाद में लगातार 22 ओवर गेंदबाजी की ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि हम उन्हें ज्यादा रन न बनाने दें। मैं अब तक इसे बराबरी का मैच मान रहा हूं। आगे जो भी लय पकड़ेगा, मैच में उसके जीतने का मौका ज्यादा होगा। यहां से हर रन काफी अहम होने वाला है।’ पिच के बारे में उन्होंने कहा, ‘मुझे लगा कि गेंद कल रुककर आ रही थी। आज निश्चित तौर पर पिच थोड़ी धीमी हुई है। जब हम बल्लेबाजी कर रहे थे. तब पिच इतनी धीमी नहीं थी। मुझे लगता है कि यहां से पिच और धीमी होगी।’

ऑस्ट्रेलिया के बायें हाथ के बल्लेबाजों खासकर शॉन मार्श को गेंदबाजी के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘बाएं हाथ के बल्लेबाजों को मैंने ज्यादा बार आउट किया है। मार्श शानदार खिलाड़ी हैं।’ यह पांचवां मौका है जब अश्विन ने शॉन मार्श का विकेट लिया। उन्होंने इस मैच में भी जो 3 सफलता हासिल कीं, तीनों ही बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं।