1985 में पिता राजीव ने लगाई थी चौपाल, 33 साल बाद पुत्र राहुल उसी गांव में लेंगे सभा

कोरबा. 1985 में राजीव गांधी ने जिस गांव में चौपाल लगाई थी। उसी गांव में 33 साल बाद 14 नंवबर को राहुल गांधी चुनावी सभा लेने जा रहे हैं। कटघोरा विधानसभा के ग्राम रंजना में राहुल गांधी की सभा होगी। इसकी तैयारी शुरु कर दी गई है।
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार को कटघोरा विधानसभा के ग्राम रंजना पहुंचेंगे।

कटघोरा से कांग्रेस ने आदिवासी नेता बोधराम कंवर के बेेटे पुरुषोत्तम कंवर को चुनाव में उतारा है। रंजना गांव में राजीव गांधी ने 1985 में चौपाल लगाई थी। तब बोधराम कंवर सहित कई दिग्गज नेता शामिल हुए थे। रंजना गांव को कोरबा विधायक जयसिंह अग्रवाल ने दूसरे चरण के तहत गोद भी लिया है। राजनीति दृष्टिकोण से ग्राम रंजना काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। अब इसी गांव के स्कूल ग्राउंड मैदान मेें राहुल गांधी की सभा 14 नवंबर को होगी। इसकी तैयारी शुरू हो चुकी है।

इधर अखिलेश यादव भी 14 को ही आएंगे ग्राम सैला में
सपा प्रमुख अखिलेश यादव गोंगपा के पाली तानाखार प्रत्याशी हीरासिंह मरकाम के प्रचार के लिए 14 नंवबर को पाली के ग्राम सैला में आएंगे। अखिलेश यादव तीन दिवसीय दौरे पर आ रहे हैं। कुल 9 जगह अखिलेश यादव चुनावी सभा में शामिल होंगे। आठ जगह कोरिया जिले में सभा लेंगे।

भाजपा का पूरा फोकस कोरबा व कटघोरा में, आज मनोज तिवारी दीपका और घंटाघर में लेंगे सभा
भाजपा का पूरा फोकस कोरबा व कटघोरा विधानसभा में है। आलाकमान भी इन दो विधानसभाओं मेें ध्यान दे रहा है। यही वजह है कि इन दो विधानसभा में स्टार प्रचारक सबसे अधिक पहुंचेंगे। रविवार को भाजपा के स्टार प्रचारक मनोज तिवारी कटघोरा विधानसभा के दीपका और कोरबा विधानसभा के घंटाघर में सुबह 12 बजे चुनावी सभा लेंगे। वहीं 12 को केन्द्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति इरानी बरपाली, 13 को सीएम डॉ रमन सिंह बांकीमोंगरा मंडल में चुनावी सभा लेंगे। यूपी के सीएम योगीआदित्यनाथ 14 को कोरबा व 16 को केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह सभा लेंगे।