दुमका : हावड़ा से भागलपुर वाया दुमका दौड़ी कवि गुरु एक्सप्रेस, सांसद व पूर्व मंत्री ने दिखायी हरी झंडी

– गुरुजी सांसद जरूर हैं लेकिन दुमका की आवाज निशिकांत उठाते हैं : शाहनवाज

– विक्रमशिला और देवघर रांची इंटरसिटी दुमका से चले : डॉ लोइस

– झामुमो के विरोध पर निशिकांत ने कहा : झंडा दिखाना है तो गुरुजी को दिखायें, कालिख पोतें

संवाददाता@दुमका

हावड़ा से बोलपुर-शांतिनिकेतन तक चलने वाली कवि गुरु एक्सप्रेस 13015/13016 का विस्तारितकरण हो गया है. शनिवार को यह ट्रेन दुमका होते हुए पहली बार भागलपुर के लिए रवाना हुई. दुमका रेलवे स्टेशन पर गोड‍्डा के सांसद निशिकांत दूबे, पूर्व केंद्रीय मंत्री शाहनवाज हुसैन तथा झारखंड सरकार की महिला बाल विकास एवं समाज कल्याण मंत्री डॉ लोइस मरांडी ने हरी झंडी दिखाकर इस ट्रेन को भागलपुर के लिए रवाना किया. 

इस अवसर पर उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी को भी याद किया. जिन्होंने दुमका-देवघर व दुमका-मंदारहिल लाइन की मंजूरी दिलायी थी. उन्होंने कहा कि वाजपेयी जी का सपना पूरा हो रहा है. 

 

इस ट्रेन में जल्द ही एसी कोच लगेंगे

श्री दूबे ने कहा कि कवि गुरु एक्सप्रेस ट्रेन में जल्द ही एसी कोच भी लग जायेंगे. मंदारहिल-भागलपुर के बीच 100 साल पुराना रेलवे लाइन है, जिसे दुरुस्त किया जायेगा, तो अभी सफर में लगने वाले वक्त में काफी कमी आयेगी. अभी महज 15-20 किमी की ही रफ्तार में उस रेलखंड में यह ट्रेन चल पायेगी. 

 

दुमका में प्रीमियर लाउंज, महिलाओं के लिए वेटिंग रूम

श्री दूबे ने कहा कि दुमका रेलवे स्टेशन में सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध होंगी. मधुपुर के साथ-साथ यहां प्रीमियर लाउंज बनेगा. महिलाओं के लिए वेटिंग हॉल बनवाये जायेंगे. पानी आदि की सुविधाएं बेहतर होंगी. ट्रांसपोर्टेशन की व्यवस्था को मुकम्मल बनाया जायेगा. 

 

इससे पूर्व पूर्व केंद्रीय मंत्री शहनबाज हुसैन ने इस ट्रेन का विस्तार कराने के लिए निशिकांत दूबे की प्रशंसा की. उन्‍होंने कहा कि निशिकांत किसी मंत्री से कम नहीं हैं. दुमका की आवाज सदन में नहीं उठती, गुरुजी भले ही सांसद के रूप में मिले, लेकिन आवाज उठाने की जिम्मेदारी निशिकांत ही उठा रहे हैं. 

 

मंत्री लोइस मरांडी ने भागलपुर से आनंद विहार तक चलने वाली विक्रमशिला एक्सप्रेस और रांची-देवघर इंटरसिटी का विस्तार दुमका तक कराने की मांग रखी. अतिथियों का स्वागत आसनसोल डिविजन के डीआरएम पीके मिश्रा ने किया और इस क्षेत्र में रेल सुविधाओं के हो रहे विस्तार तथा भविष्य की योजनाओं से रू-ब-रू कराया. 

 

उन्होंने दुमका में यात्रियों की परेशानी को देखते हुए एक अतिरिक्त टिकट काउंटर शुरू कराने की घोषणा की. झामुमो के विरोध प्रदर्शन पर सांसद निशिकांत दुबे, पूर्व केंद्रीय मंत्री शहनवाज हुसैन तथा कल्याण मंत्री लोइस मरांडी ने भी झामुमो और शिबू सोरेन पर निशाना साधा.