थप्पड़ मारने पर को¨चग संचालक की कर दी थी हत्या, आरोपित गिरफ्तार

जागरण संवाददाता, बाहरी दिल्ली :

प्रशांत विहार इलाके में आइआइटी-आइएमएम के पूर्व छात्र व को¨चग के संचालक दीपक की हत्या के आरोपित भूपेंद्र को दबोच लिया गया है। उसने थप्पड़ मारने पर को¨चग संचालक के पेट में चाकू घोंप दिया था, जिनकी बाद में मौत हो गई थी। वारदात के बाद आरोपित फरार चल रहा था। पुलिस ने उसके पास से कट्टा व दो कारतूस भी बरामद किया है।

रोहिणी जिले के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त गौरव शर्मा ने बताया कि दीपक (35) दिल्ली आइआइटी से बीटेक व आइआइएम कोलकाता से प्रबंधन की डिग्री लेने के बाद रोहिणी इलाके में को¨चग चलाते थे। वे इंजीनिय¨रग व मेडिकल कॉलेज में प्रवेश के इच्छुक छात्रों को को¨चग में पढ़ाते थे। वे इसी साल 24 सितंबर को रोहिणी सेक्टर-11 में अपनी कार की सर्वि¨सग करा रहे थे तभी वहां पहले से परिचित भूपेंद्र आया और कार की चाभी मांगने लगा, लेकिन दीपक ने मना कर दिया तो वह नाराज हो गया और उन्हें भला बुरा कहने लगा। इस पर दीपक ने उसे थप्पड़ जड़ दिया था।

ऐसे में भूपेंद्र कुछ देर बाद चाकू लेकर आया और उनके पेट में घोंप कर फरार हो गया। इस मामले में अस्पताल में भर्ती दीपक के बयान पर प्रशांत विहार में भूपेंद्र उर्फ झोटा के खिलाफ हत्या के प्रयास में मामला दर्ज किया गया था, लेकिन में बाद में दीपक की मौत होने पर प्राथमिकी में हत्या की धारा जुड़ गई थी।

इसके बाद आरोपित की गिरफ्तारी के लिए स्पेशल स्टाफ के एसीपी रणबीर ¨सह खत्री की देखरेख में इंस्पेक्टर अजय कुमार एवं एसआइ सचिन मान की टीम गठित की गई। टीम ने टेक्निकल सर्विलांस, फेसबुक एवं अन्य माध्यमों से आरोपित की गिरफ्तारी के लिए सुराग तलाशने शुरू किए। इस दौरान पुलिस को सूचना मिली कि शनिवार को वह रोहिणी के जापानी पार्क में आर्थिक मदद के लिए किसी से मिलने के लिए आएगा। इसी जानकारी के आधार पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

Posted By: Jagran