छठ पर्व पर राजधानी के गंगा घाटों पर बनेंगे 91 मेडिकल कैंप

पटना : छठव्रतियों और श्रद्धालुओं के लिए दीघा से लेकर पटना सिटी तक 91 घाटों पर अस्थायी मेडिकल  कैंप बनाये गये हैं. इनमें 20 तरह की दवाओं के साथ एक डाॅक्टर और एक पारा  मेडिकल स्टाफ उपलब्ध रहेंगे. दो-तीन घाटों को जोड़ कर 32 बड़े  घाटों पर मेडिकल टीम के साथ 32 एंबुलेंस भी तैनात  रहेंगे. साथ ही चार रिवर एंबुलेंस भी मेडिकल टीम के साथ गंगा नदी में लगाये गये हैं. यह जानकारी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने दी. वे शनिवार को छठ घाटों पर स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के बाद बोल रहे थे. 

मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि इसके अलावे एक मेडिकल टीम को चिड़ियाघर के अंदर लगाया गया है. 91 घाटों को सात सेक्टरों में बांटा गया है, जिनके प्रभारी मेडिकल आॅफिसर बनाये गये हैं. सभी जोन प्रभारी को श्रद्धालुओं की सेवा के लिए मुस्तैद रहने को कहा गया है. उन्होंने कहा कि छठव्रतियों और श्रद्धालुओं की सेवा के लिए स्वास्थ्य विभाग ने सभी मेडिकल काॅलेज, सरकारी अस्पताल और पांच प्राइवेट अस्पतालों को अलर्ट रहने को कहा है.

नहाय-खाय के दिन 11 नवंबर और खरना के दिन 12 नवंबर को अशोक राजपथ के पांच घाटों पर सुबह सात से 10 बजे तक, 13 और 14 नवंबर को स्वास्थ्य विभाग की टीमें और एंबुलेंस सेवा में उपलब्ध रहेंगी.