आज से छठ पर्व, नदी और पोखरों के घाट तैयार

{“_id”:”5be71d17bdec22696b239c3e”,”slug”:”chhath-from-today”,”type”:”story”,”status”:”publish”,”title_hn”:”\u0906\u091c \u0938\u0947 \u091b\u0920 \u092a\u0930\u094d\u0935, \u0928\u0926\u0940 \u0914\u0930 \u092a\u094b\u0916\u0930\u094b\u0902 \u0915\u0947 \u0918\u093e\u091f \u0924\u0948\u092f\u093e\u0930″,”category”:{“title”:”City & states”,”title_hn”:”\u0936\u0939\u0930 \u0914\u0930 \u0930\u093e\u091c\u094d\u092f”,”slug”:”city-and-states”}}

बस्ती। छठ पर्व की तैयारियों में श्रद्धालुओं और बाजार के साथ ही नगर पालिका प्रशासन भी जुट गया है। कुआनो नदी के किनारे घाट को व्यवस्थित किया जा रहा है। रविवार से बुधवार तक चलने वाले सूर्य उपासना के महापर्व के लिए परदेसी भी अपने घर पहुंच रहे हैं।  शुक्रवार रात लक्ष्मी प्रतिमाओं के विसर्जन के चलते घाट पर अवशेष पसरे थे, जिसे व्यवस्थित करने के लिए नगर पालिका प्रशासन ने मजदूरों की टीम उतार दी है। हालांकि, दोपहर बाद तक कुआनो नदी के अमहट घाट पर मात्र कुछ ही दूर तक मिट्टी पर सीढ़ियों का निर्माण कराया जा सका था। मगर पालिका के जिम्मेदार देर रात तक इसे व्यवस्थित करने का दावा कर रहे हैं। 
छठ व्रत का पूजा-पाठ रविवार से शुरू हो जाएगा। 13 को अस्ताचलागामी अर्घ्य तो 14 की सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा। पूजा के विधान के मुताबिक 11 को नहाय-खाय व 12 नवंबर को खरना के साथ ही महिलाएं व्रत रखती हैं। व्रत में अपने आर्थिक स्थिति के मुताबिक अधिकाधिक फल चढ़ाया जाता है। व्रत में दौरा व सूपा का उपयोग होता है। इसी में गंजी, केला, हल्दी, अदरक, साठी का चावल व चूड़ा, धागा, आल्ता पत्ता, अनार, तरबूज, खट्ठा मीठा नीबू, अन्नास, नरियल, नागा, रामफल, मूंगफली, सिंघाड़ा, आंवला, शरीफा, पनियाला, अंगूर, कीवी सहित दो दर्जन से ज्यादा फल चढ़ाए जाते हैं। एक ओर जहां पालिका प्रशासन कुआनो व निर्मली कुंड घाट पर सफाई कराने में जुटा है, वहीं, बाजार भी सज गए हैं। 
यहां 1973 से छठ पर्व पर सामान बेचने वाले राजकुमार ने कहा कि पहले 35 से 50 रुपये तक के फल में पर्व मना लिया जाता था, मगर समय के साथ महंगाई बढ़ी और सामान की कीमत में बेतहाशा वृद्धि हो गई है। इस बार पिछले वर्ष की तुलना में सामानों की कीमत में 35 प्रतिशत तक की बढ़ोत्तरी हो गई है। नगर पालिका परिषद के ईओ डॉ. मणिभूषण त्रिपाठी ने कहा कि व्रतियों को कोई दिक्कत न होने पाए इसके इंतजाम घाटों पर कराए जा रहे हैं। लाइट आदि का भी इंतजाम पालिका प्रशासन कराएगा, जिससे रात में घाट पर सकुशल पूजा पाठ संपन्न कराया जा सके। 

तैयार हो रहा है बुद्धि बाजार पोखरा 
रुधौली। छठ पर्व को संपन्न कराने के लिए शनिवार को बुद्धि बाजार पोखरे की सफाई भी शुरू कर दी गई। नगर पंचायत अध्यक्ष धीरसेन निषाद का कहना है कि अभी तो व्रती महिलाओं के खड़े होने की व्यवस्था देने के लिए के लिए पोखरे से जलकुंभी निकाला जा रहा है। इसके बाद चूंकि पोखरे के पुराने घाटों सिर्फ एक ही घाट प्रयोग के लायक है, जिसके कारण पोखरे के बगल की मिट्टी को काट कर वैकल्पिक रूप से कुछ अन्य घाटों की व्यवस्था बनाई जाएगी। बाद में वहां साफ सफाई की व्यवस्था को सुनिश्चित कराते हुए प्रकाश की भी पर्याप्त व्यवस्था दी जाएगी। इसके अलावा स्थानीय थाने से पर्याप्त पुलिस बल की मांग कर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम भी किए जाएंगे।